Hala.org App

Hala.org App
Jamnagar News

Wednesday, April 18, 2007

मुकेश अम्बानी कि दुविधा - सुविधा

भैया मुकेश का हैप्पी जन्मदिन ऐसे मोके पे आया हैं कि उनका कॉंग्रेस के प्रति लगाव और अनिल भाई से अलग रहेने कि इच्छा साफ साफ जाहिर होती हैं

जामनगर मे वेह अपना ५० वा जन्मदिन रिलायंस के कर्मचारिगन और कुछ जानी मानी हस्ती के साथ बिता रहें हैं

१९ - अप्रील को वे ५० साल के हो जायेंगे

लिस्ट मे इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के सितारे और राजनेता भी हैं , शाहरुख़ खान, सुनील मित्तल, कमल नाथ वगेरा उस लिस्ट मे शामिल हैं। गौर तलब हैं कि आमिर और शाहरुख़ खान पहली बार जामनगर आएंगे.

इसी दौरान मुम्बई मे बिग बी अपने बेटे के शादी का लिस्ट बाँट रहें हैं, उस मे अमर सिंह, मुलायम सिंह, अनिल भैया, विलास राव देशमुख, बाल ठाकरे वगेरा शामिल हैं।

जामनगर मे एक क्रिकेट मैच भी होगा जो मेहमान और रिलायंस के कर्मचारी के बीच होगा,

मुकेश कि पत्नी नीता उनके पतिदेव को एक बायो - पिक गिफ्ट करेंगी, जो राकेश मेहरा ( आर डी बी ) ने डायरेक्ट कि हुई हैं, जिसमे मुकेश के घर वाली और दोस्तो ने मुकेश के बारे मे अच्छी अच्छी बाते कहीँ हैं

गुरुवार को जामनगर मे यह गिफ्ट दिया जाएगा

धन्यवाद

ब्रिजेश पंड्या

Brass Parts Owners strike

Nearly 3,000 brass part units in Jamnagar, were on a symbolic one-day strike to protest the substantial surge in the prices of brass scrap,
At London Metal Exchange (LME) and local commodity exchanges, brass parts prices have been constantly rising for the past four months. Manufacturers said that the prices have increased to Rs 270/kg, from Rs 215/230 four months ago.
its a bit strange as the prices were as low as Rs 80/100 two years ago , it is to be noted that Brass scrap is a key raw material used by the industry.
A leading brass parts manufacturer explained that speculative trading in brass and copper at the LME and other commodity exchanges had hugely contributed to the woes of the brass parts industry.
Currently most of the brass part units were operating at 40% / 50% capacity , a higher tax burden is also a cause of concern for the industry, bit shame that of the Rs 270 per kg of brass scrap, brass parts units have to bear a tax burden of Rs 36/Kg .
morever prices of finished products have not increased as much as the prices of raw material, which has left all the brass part units in the lurch.